The Bilasa Times

छत्तीसगढ़ की तमाम खबरें

Breaking

Wednesday, September 2, 2020

"साइबर मितान" बिलासपुर में पहले ही दिन 300 स्थानो पर करीब 40 हजार लोगो को किया गया जागरूक।


बिलासपुर  पुलिस द्वारा चलाये जा रहे साइबर मितान अभियान जोर पकड़ने लगा है। पुलिस के साइबर रक्षक अब लोगों से जुड़ने और उन्हें जागरूक करने डोर टू डोर कैम्पेनिंग कर रहे हैं। वहां से लोगों का उन्हें सहयोग भी मिल रहा है और लोग इस मुहिम से जुड़ना तेज कर दिए हैं।इसी क्रम में मंगलवार को पुलिस के साइबर रक्षक और एसपीओ मॉर्निंग और इवनिंग वॉक करने वालों से भी जुड़े,और उन्हें साइबर क्राइम के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए इससे बचने की आवश्यक जानकारी दी।आईजी दीपांशु काबरा व एसपी प्रशांत कुमार अग्रवाल के निर्देश पर सभी थाना प्रभारियों ने ऑनलाइन सभी एनजीओ व अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं व जागरूक नागरिकों के साथ मीटिंग ली। इस दौरान उन्होंने ज्यादा से ज्यादा साइबर रक्षक बनाने और उन्हें साइबर क्राइम के प्रति जागरूक करने के आवश्यक निर्देश दिए साथ ही ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इस अभियान को पहुंचाने को कहा।
नुक्कड़ नाटक के जरिये बताया क्या है साइबर क्राइम।
इस दौरान सिटी कोतवाली के साइबर रक्षक व एसपीओ ने रिव्हर व्यू में नुक्कड़ नाटक किया। इस दौरान नुक्कड़ नाटक के जरिए वहां मौजूद लोगों को हर तरह के साइबर अपराध और उनसे होने वाले नुकसान व बचने के उपाय बताए गए।जिसे देखकर वहां मौजूद लोगों ने भी इस नुक्कड़ नाटक के जरिये साइबर क्राइम से बचने का संकल्प लिया। इस दौरान वहां एसपी प्रशांत कुमार अग्रवालए टीआई कलीम खान, ए एस आई मनोज नायक सहित अन्य लोग मौजूद रहे।
बाजारों में जाकर बताया कैसे बचें साइबर क्राइम से।
मंगलवार को सभी साइबर रक्षकों शहर के प्रमुख बाजारों में जाकर लोगों को जागरूक करने की कोशिश की और उन्हें बताया कि किस तरह से क्रिमिनल्स उन्हें अपना शिकार बनाते हैं और कैसे उनसे बचा जा सकता है।
व्हाट्सएप और बिलासपुर पुलिस के सोशल पेज से जुड़े।
बिलासपुर पुलिस लगातार लोगों से अपील कर रही है कि सोशल मीडिया में बिलासपुर पुलिस के पेज से जुड़ें और पुलिस के व्हाट्सएप नम्बर 9479264100 में मैं हूं साइबर मितान लिखकर मैसेज करें और पुलिस के इस अभियान में जुड़ें।
अपराधी और जनता के बीच जागरूकता की खींचनी है रेखा. एसपी अग्रवाल।
नुक्कड़ नाटक और अलग.अलग जगह हुए जागरूकता कार्यक्रम के दौरान वहां एसपी प्रशांत कुमार अग्रवाल भी पहुंचे। उन्होने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि एक्टिव वालिंटियर के जरिये आप सबके बीच पुलिस आ रही पुलिस है। साइबर मितान का उद्देश्य एक तरह से अपराधी और जनता के बीच जागरूकता की रेखा खींचनी है।ताकिए बिलासपुर साइबर क्राइम मुक्त हो सके। इस दौरान एसपी अग्रवाल ने कहा कि दूर बैठे अपराधी से हमें खुद को और अपने से जुड़े लोगों को बचाना व जागरूक करना हैए और इस बात को जरूर याद रखें कि कभी भी कोई भी बैंक आपसे बैंक सम्बन्धी जानकारी नहीं मांगता हैए इसलिए इससे सतर्क रहें। साइबर क्राइम से खुद को और अपने से जुड़े हुए लोगों को जागरूक करें,
बिलासपुर जिले में चलाये जा रहे साइबर अपराध के विरूद् जागरूकता अभियान साइबर मितान
प्रथम दिन पुलिस महा निरीक्षक बिलासपुर दिपांशु काबरा एवं पुलिस अधीक्षक बिलासपुर प्रशांत अग्रवाल ने प्रत्येक थाना के थाना प्रभारी (साइबर नोडल) एवं साइबर लीडर तथा सायबर रक्षक को हर शहर गांव हर मोहल्ला एवं हर घर जाकर साइबर मितान बनाने तथा इस जागरूकता अभियान को ब्यापक रूप से प्रचार प्रसार कर साइबर अपराधों से समाज के लोगों को बचने के संबंध में आवश्यक दिशानिर्देश दिये जिसके परिपालन में सभी थानों में वृहद पैमाना पर अभियान का प्रारंभ किया गया। पुलिस अधीक्षक बिलासपुर द्वारा स्वयं शहर के विभिन्न संस्थानों में जाकर लागों से इस महा अभियान में जुड़कर सार्थक बनाने का अपील किये। जिले में सभी थाना प्रभारियों द्वारा अभियान चला कर लगभग 300 स्थानो पर करीब 40 हजार लोगो को आन लाईन रूप से जागरूक किये है ।
                  जागरूकता अभियान के दौरान
आज शांति नगर बिलासपुर निवासी योगेश गुप्ता को अनजान नंबर से काल कर अज्ञात आरोपी द्वारा सात लाख रूपये लाटरी लगने का झांसा देकर प्रलोभन दिया गया किन्तु पुलिस द्वारा चलाये जाने वाले इस अभियान से जागरूक होकर गुप्ता द्वारा आरोपी के झांसे में न आते हुए उन्हे किसी प्रकार की जानकारी नही दी गई। तथा तत्काल पुलिस कंट्रोल रूम एवं साइबर सेल के नंबर पर घटना की सूचना दिये। प्रार्थी की सूचना को साइबर सेल द्वारा तत्काल संज्ञान में लेकर जांच कि गई तो ज्ञात हुआ कि आरोपी द्वारा जिस नंबर से फोन कर झांसा दिया गया है वह टिकमगढ़ मध्यप्रदेश का है जहां इस तरह के गैंग सक्रिय है उनके विरूद् पुलिस द्वारा वैधानिक कार्यवाही की जा रही है।इसी प्रकार ग्राम पेंडरवा थाना बिल्हा जिला बिलासपुर के श्रीमती सुमित्रा पोर्ते के पास भी अज्ञात आरोपी द्वारा एक लाख रूपये खाता में जमा होने का झांसा देकर ठगी का प्रयास किया गया किन्तु सुमित्रा पोर्ते ने बताया कि बिलासपुर पुलिस द्वारा चलाये जा रहे साइबर मितान जागरूकता अभियान से जागरूक होने की वजह से धोखाधड़ी के शिकार होने से बच गये।



#thebilasatimes 

No comments:

Post a Comment

Adbox