The Bilasa Times

छत्तीसगढ़ की तमाम खबरें

Breaking

Friday, August 28, 2020

भारी बारिश से रायगढ़ जिले में आमजीवन अस्त व्यस्त

रंजीत चौहान 

रायगढ़  जिले में आमजन भारी बारिश से अस्तव्यस्त है,चारों तरफ लोगों की मुरझाए हुए चेहरे और परेशानियां नजर आ रही हैं  रायगढ़ के पुसौर बरमकेला  सरिया सारंगढ़  रायगढ़ इत्यादि क्षेत्रों में बाढ़ देखने को मिल रहा है रायगढ़ जिला कलेक्टर द्वारा निरीक्षण कर स्थिति का मुआना लिया गया है।लोगों के घरों में पानी घुस जाने के कारण लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है कलेक्टर भीम सिंह और पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पहुंचकर किया निरीक्षण।

कलेक्टर के प्रयास से खोले गये हीराकुंड जलाशय के गेट,बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के लोगों के लिये भोजन पैकेट तथा पशुओं के लिये,चारे की व्यवस्था करने के निर्देश 

कलेक्टर भीम सिंह और पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने आज जिले के महानदी की बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण कर बचाव एवं राहत कार्य के निर्देश दिये। उन्होंने कलमा बैराज पहुंचकर महानदी के बढ़ते जल स्तर की जानकारी ली। कलमा बैराज के प्रभारी जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री ने कलेक्टर सिंह को जानकारी दी कि कल 27 अगस्त की रात 9 बजे से 28 अगस्त को प्रात: 11 बजे तक महानदी के जलस्तर में 2 मीटर की वृद्धि हुई है। नदी का जल स्तर बढऩे से दोनों किनारों के 14-15 गांव प्रभावित हुये है। वर्तमान समय में बरसात रूकने से जलस्तर 199 मीटर पर स्थिर है, जो कि खतरे के निशान से लगभग एक मीटर नीचे है। कार्यपालन यंत्री ने यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य में बहने वाली नदियों का कुल 80 प्रतिशत पानी कलमा बैराज से होकर निकलता है। बैराज से 6 किलो मीटर के बाद महानदी उड़ीसा राज्य की सीमा में प्रवेश करती है। कलेक्टर सिंह ने कार्यपालन यंत्री को महानदी के जलस्तर की अपडेट जानकारी तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।कलेक्टर सिंह ने बताया कि आज प्रात: संबलपुर (उड़ीसा)जिले के कलेक्टर से बात कर हीराकुंड बांध के गेट को खोलने को कहा है जिससे रायगढ़ जिले में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में जलस्तर कम हो सके। संबलपुर जिला प्रशासन द्वारा हीराकुंड बांध के गेट खोल दिये गये है वहां बांध से पानी निकासी के फलस्वरूप रायगढ़ जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में नदी का जल स्तर स्थिर हुआ है।वहीं कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक महानदी के बाढ़ प्रभावित ग्राम सूरजगढ़ पहुंचकर वहां के ग्रामवासियों से बात किया और लोगों के घरों में पानी आ जाने के कारण ग्रामवासियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के निर्देश राजस्व विभाग के अधिकारियों को दिये। कलेक्टर सिंह ने पुसौर तहसीलदार को निर्देशित किया कि सूरजगढ़ गांव के निवासियों के लिये पर्याप्त वाहन व्यवस्था कर आवश्यक सामानों सहित सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाये तथा बाढ़ प्रभावित लोगों के लिये भोजन के पैकेट तैयार कर वितरित किया जाये। उन्होंने गांव के पशुओं के लिये आवश्यक चारा तथा पशु आहार की व्यवस्था किये जाने के निर्देश और ग्रामीणों से कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में आप लोगों को घबराने की आवश्यकता नहीं है प्रशासन की ओर से स्थिति पर लगातार निगरानी रखी जा रही है। बाढ़ से प्रभावित लोगों को हर संभव मदद पहुंचायी जायेगी।

No comments:

Post a Comment

Adbox