The Bilasa Times

छत्तीसगढ़ की तमाम खबरें

Breaking

Monday, April 27, 2020

कोटा से आने वाले छात्रों को ठहराने के लिए प्रशासनिक तैयारी पूर्ण


बिलासपुर, कोटा राजस्थान से बिलासपुर लाये जा रहे छात्र-छात्राओं को ठहराने के लिए कलेक्टर डॉ. संजय अलंग के मार्गदर्शन में सभी प्रशासनिक तैयारी पूर्ण कर ली गई है।
इन छात्र-छात्राओं को कैरियर प्वाइंट शाला परिसर ढेका, लालखदान, जैन इंटरनेशनल स्कूल सकरी, एलसीआईटी बोदरी, जगदीश लॉज सदरबाजार एवं सेंट जेवियर्स स्कूल भरनी के छात्रावास में ठहराने की व्यवस्था की गई है। इन बच्चों को 14 दिन क्वारांटीन पर रखा जायेगा। क्वारांटीन के दौरान इन्हें ज्ञानवर्धक, स्वास्थ्यवर्धक व मनोरंजक गतिविधियों में व्यस्त रखने की तैयारी की गई है।बिलासपुर में दुर्ग संभाग के 400 से अधिक बच्चों को इन स्थानों पर क्वारांटीन किया जायेगा। इनमें लगभग 175 छात्राएं हैं। छात्र एवं छात्राओं के लिए ठहरने की अलग-अलग व्यवस्था की गई है। सभी बच्चों का सबसे पहले स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा और कोरोना संक्रमण की जांच के लिए रैपिड टेस्ट होगा। इन सेंटरों में 18 स्वास्थ्य टीमें तैनात की गई हैं था 40 डॉक्टर भी अपनी सेवाएं देंगे। सभी बच्चों की जानकारी गूगल शीट में तैयार की जायेगी।बच्चों के लिए तैयार किये सभी कमरों में मास्क, सैनेटाइजर, डेटॉल, साबुन, डस्टबिन आदि आवश्यक वस्तुएं रखी जायेंगी। हर सेंटर में बच्चों के लिए नमकीन, बिस्कुट, चिप्स आदि खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जायेगी, जिसके लिए महिला स्व-सहायता समूहों को जिम्मेदारी दी जा रही है।
 इन स्थानों पर रोके जा रहे छात्र-छात्राओं के मनोरंजन के लिए इनडोर गेम शतरंज, कैरम, लूडो आदि की व्यवस्था की गई है, साथ ही योग व व्यायाम कराने के लिए व्यायाम शिक्षक भी तैनात किये गये हैं।आदिवासी विकास विभाग व शिक्षा विभाग के कर्मचारियों की यहां की व्यवस्था देखने के लिए ड्यूटी लगाई गई है, जो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे। छात्र-छात्राओं की सुरक्षा  के लिए यहां पुरुष तथा महिला गार्ड की व्यवस्था भी की गई है। बसों में छात्रों को लेने के लिये राजस्थान कोटा से साथ आ रहे कर्मचारियों का भी यहां आने पर स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा तथा उन्हें भी क्वारांटीन किया जायेगा।

द बिलासा टाईम्स 

No comments:

Post a Comment

Adbox